मीडिया जगत से जुड़ी खबरें भेजे,Bhadas2media का whatsapp no - 9411111862

पुलिस से बचने के लिये सट्टा संचालक का भाई बन गया कथित पत्रकार

 पुलिस से बचने के लिये सट्टा संचालक का भाई बन गया कथित पत्रकार

*पुलिस से बचने के लिये सट्टा संचालक का भाई बन गया कथित पत्रकार*

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के दोबारा सत्ता में आते ही बुलडोजर की स्पीड और तेज हो गई है. जहां पर शहरों में बुलडोजर ने अपराधियों पर गरजना शुरु कर दिया है. यही नहीं प्रचंड बहुमत के बाद योगी सरकार की सत्ता में वापसी के साथ ही एक बार फिर अपराधी पुलिस स्टेशनों में सरेंडर करने में लगे हुए हैं.तो वहीं,कानपुर मे आईपीएल मैच में सट्टा का कारोबार करने वाले अमजद खान पर क्यों मेहरबानी है पुलिस सट्टा संचालक अमजद खान की अवैध संपत्ति पर क्या योगी सरकार का चलेगा बुलडोजर क्या गैंगस्टर की कार्रवाई होंगी सट्टा माफिया पर सट्टा माफिया अमजद खान पर आईपीएल मैच में सट्टा चलाने का आरोप है और तो और पुलिस सट्टा संचालक को पकड़ा भी चुकी है वही सट्टा माफिया नें फिर से आईपीएल मैच में सट्टा खिलाना चालू कर दिया है वही सट्टा किंग अमजद खान को बचाने के लिये उसका भाई फिरोज भी लगा हुआ है जो जोमैटो में खाना बांटता है उसने भी अपने भाई को बचाने के लिए पत्रकारिता का चोला ओढ़ लिया है क्या इसी वजह से इस सट्टा माफिया की अवैध संपत्ति पर योगी आदित्यनाथ का बुलडोजर नहीं चल रहा है

*सट्टा माफिया अमजद खान नें अपने घर के बाहर राजनीति पार्टी और पत्रकार का बोड लगा रखा है*

ग्लैमर की चाह और पुलिस-प्रशासन के बीच भौकाल गांठने के लिए अमजद खान जैसे सट्टा माफिया नें अपने घर के बाहर कांग्रेस पार्टी का बॉड लगा रखा है सट्टा किग राजनीतिक हस्ती या पार्टी का दामन थाम कर अपराध कर रहा है वहीं वर्तमान में ये ट्रेंड बदल गया है। सट्टा माफिया अमजद खान का भाई फिरोज खान जो जोमैटो और स्विग्गी मे काम करता है उसने भी पुलिस वालों को अदब में लेने के लिये पत्रकारिता का चोला ओढ़ लिया है वर्तमान में सट्टा माफिया अमजद खान के भाई की पसंद और अपराधियों का सबसे पसंदीदा क्षेत्र पत्रकारिता बनता जा रहा है

*पुलिस को अदब में लेने के लिए गैर कानूनी कार्य कर रहा है*

वेब पोर्टल्स के आ जाने के बाद बड़ी संख्या में सट्टा माफिया अमजद खान के भाई को भी ‘प्रेस’ लिखने का सुनहरा मौका मिल गया है। इसके सहारे वो न सिर्फ़ अपने पुराने अपराधों को छुपाए हुए हैं, बल्कि नये अपराधों को भी जन्म देकर, पुलिस और प्रशासन पर अपनी पकड़ भी मजबूत कर रहे हैं सट्टा माफिया अमजद खान और उसका भाई फिरोज खान तमाम तरह के गैरकानूनी कार्य पत्रकारिता की आड़ में संचालित करने में लगे हैं

*इसीलिए पुलिस इस सट्टा माफियाओं पर कार्रवाई नहीं कर रही है क्या*

आईपीएल मैच पर सट्टे का कारोबार जोर से चल रहा है. यह गेम पुलिस चौकी के चंद कदमों की दूरी पर चल रहा है.सट्टे के कारोबार में हर मिनट एक एक बॉल पर सट्टा लगाया जा रहा है मैच पर सट्टा चलाने वाले अमजद खान को उसके ही कथित पत्रकार भाई ने संरक्षण दें रखा है सट्टा संचालक का भाई फिरोज खान जोमैटो मैं खाना बांटने का काम करता है पुलिस से अपने भाई को बचाने के लिए घर के बाहर पत्रकारिता बोड लगा रखा है इसीलिए पुलिस इस सट्टा माफियाओं पर कार्रवाई करने में सोचती है

*सट्टा माफिया जल्द ही अमीर बनने का सपना दिखाने लगा है लोगो को*

गौरतलब है कि जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते कानपुर शहर में सट्टा किंग अमजद खान प्रतिदिन लाखों रुपए अवैध ढंग से कमा कर गरीब वर्ग के लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं लोगों को जल्द ही अमीर बनने का सपना दिखाने वाले अमजद खान सट्टा किंग पुलिस की मेहरबानी के चलते मजदूर वर्ग के लोगों को अपना शिकार बना रहा है शहर में यदि इन सट्टाखोरों की दुकानदारी समेट दी जाए, तो लोगों को भी इस बुरी लत से आसानी से छुटकारा मिल सकता है।

*पेट्रोल पंप के मालिक मंगल सिंह की फोटो वायरल हुई थी सट्टा संचालक के साथ ? कल*

पेट्रोल पंप के मालिक मंगल सिंह ने जनमत न्यूज़ के संवाददाता को फोन करके बताया कि मैं अमजद खान को जानता जरूर हु लेकिन मेरा उसके किसी भी गलत काम में सहयोग नहीं है और मैं उसके किसी भी गलत काम को नहीं जानता हूं

*यूनिटी ऑफ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव ने कहा फर्जी पत्रकारों पर कार्रवाई हो*

प्रदेश अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव ने कहा की तमाम पत्रकार तो ऐसे हैं जिनके अखबार नहीं आ रहे हैं, लेकिन फर्जी लैटर सूचना विभाग में जमा कराकर अवैध कार्य कर रहे हैं । कुछ ऐसे भी पत्रकार हैं जो अखबार की पीडीएफ कॉपी मंगाकर पत्रकार बने घूम रहे हैं। आज तक उनके समाचार पत्रों के दर्शन किसी ने भी नही किये है और तो और फर्जी पत्रकारों की वजह से असली पत्रकारों की अहमियत खत्म हो रही है प्रशासन और पुलिस को इन जैसे फर्जी पत्रकारों पर कार्रवाई करनी चाहिए सट्टा चलाने वाले को अगर फिरोज खान जैसे लोग पत्रकारिता का सहारा लेकर बचा रहे है तो जिला प्रशासन को इस पर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए

*जर्नलिस्ट्स क्लब के महामंत्री अभय त्रिपाठी ने कहा की पत्रकारिता की आड़ लेकर अपराधियों को बचाने का काम करने वालों पर करवाइए हो*

उत्तर प्रदेश मे इन दिनों पत्रकारिता की आड़ में अवैध वसूली करने वाले और अपराधियों को बचाने वाले कथित पत्रकारों पर कानपुर पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए ताजा मामला कानपुर से सामने आया है जहां पर सट्टा किंग अमजद खान को बचाने के लिए उसका सगा भाई फिरोज कथित फर्जी पत्रकार बनकर अपने सट्टा भाई को बचा रहा है

*ऑल इंडियन रिपोर्टर एसोसिएशन आईरा के महामंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि अपराधी पत्रकारिता का सहारा लेकर अपराध कर रहे है इन पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो*

महामंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि कानपुर में फर्जी पत्रकारों की बाढ़ सी आ गई है अपराधी अपने अपराध को छुपाने के लिए पत्रकारिता का सहारा ले रहे हैं ताजा मामला कानपुर से सामने आया है जहां पर सट्टा चलाने वाले का भाई फिरोज खान कथित पत्रकार बना बैठा है और अपने सट्टा किंग भाई को बचाने के लिए पत्रकार को बदनाम कर रहा है श्री दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा कि कानपुर पुलिस को ऐसे फर्जी और कथित पत्रकार पर जरूर कार्रवाई करनी चाहिए

सूरज वर्मा संवाददाता कानपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published.