• April 21, 2024

Category :

खास ख़बर

धीरेंद्र शस्त्री ने ABP न्यूज के पत्रकार को लिया आड़े हाथ

पहली बार ऐसा देखा कि मीडिया घबरा गया कल जब धीरेन्द्र सास्त्री ने पूरे देश के मीडिया के बीच से ABP न्यूज के पत्रकार को उसके परिवार सहित नाम बताकर ओर घर अंदर की महत्वपूर्ण गुप्त जानकारी देकर जब मीडिया को गुस्से में जवाब दिया कि अब अंधविश्वास शब्द का प्रयोग मत करना वरना नंगा […]Read More

श्रद्धांजलि

टीवी-9 के पत्रकार उमेश पाठक का देहांत

टीवी पत्रकारिता में उभरता नाम उमेश पाठक का देहांत। पीजीआई में चल रहा था इलाज। TV9 में थे कार्यरत। एक बजे के बाद पार्थिव शरीर पीजीआई से अयोध्या पैतृक निवास ले जाया जाएगा। नावेद शिकोह वरिष्ठ पत्रकारRead More

श्रद्धांजलि

लखनऊ के पत्रकार सैयद माजिद पारी का इंतेकाल

ख़त्म हुई फोटो जर्नलिस्ट पारी की ज़िन्दगी की पारी आज रात दादा मियां की मजार क़ब्रिस्तान में होंगे सुपुर्द-ए-खाक लखनऊ के हरदिल अज़ीज़ फोटो जर्नलिस्ट सैयद माजिद पारी का इंतेकाल (मृत्यु) हो गया। वो काफी दिनों से ब्रेन कैंसर के मर्ज से पीड़ित थे। आज रात लखनऊ के माल एवेन्यू स्थित दादा मियां की मज़ार […]Read More

कहासुनीशहर दर शहर

हरिद्वार में के न्यूज़ चैनल ने रखा आरोपी पत्रकार ?

के न्यूज़ चैनल ने रखा आरोपी पत्रकार ? कई चैंनलों से बाहर निकाले जाने के बाद के न्यूज़ चैनल ने रखा आरोपी पत्रकार ? हरिद्वार में दलित युवक से मारपीट एवं जानलेवा हमले के मामले में आरोपित पत्रकार आशु शर्मा खुलेआम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना कर पुलिस प्रशासन को चुनौती दे रहा है प्राप्त […]Read More

श्रद्धांजलि

मीडिया सेंटर की रौनक मुईज़ ख़ान नहीं रहे

लखनऊ के पत्रकार मुईज़ ख़ान नहीं रहे। सोमवार को ऐशबाग के क़ब्रिस्तान में वो सिपुर्द-ए-ख़ाक कर दिए गए। आवाज़ और क़द काठी में बुलंद ख़ान साहब की चर्चाएं भी तीन दशकों तक पत्रकारों के चौपालों में किसी ना किसी रूप में बुलंद रहीं। ज़िन्दा दिली से भरी उनकी बातें लखनऊ के मीडिया सेंटर की रौनक […]Read More

श्रद्धांजलि

उ.प्र. संवाददाता समिति ने शोक सभा को भी दे दी श्रद्धांजलि !

उ.प्र. संवाददाता समिति ने शोक सभा को भी दे दी श्रद्धांजलि ! ज़िन्दगी और मौत सबसे अहम है। जन्मदिन ज़िन्दगी की नेमत बरक़रार रहने का जश्न है और मौत ज़िन्दगी खत्म होने का मातम है। जब से सोशल मीडिया आम हई है ज़िन्दगी का जश्न और मौत का मातम ए इज़हार बढ़ सा गया है। […]Read More

खास ख़बर

डिजिटल इंडिया और भीख

डिजिटल इंडिया और भीख!!!! वाक्या कल रात का है। रात के कोई 9 बजे घर से टहलने निकला था। बड़ी दीदी और पत्नी साथ में थी। घर के पास चलती सड़क पर साइकिल पर झाड़ू बचने वाले युवक ने रोक लिया। उसने कुछ पैसे मांगे। चूंकि, पर्स लेकर नहीं निकला था, सो मैंने मना कर […]Read More

Share