• December 6, 2022

Category :

मजीठिया

दैनिक दिव्य मराठी प्रबंधन को औरंगाबाद हाईकोर्ट ने दिया जोरदार झटका

डीबी कार्प को पीएफ घोेटाले मामले में हाईकोर्ट में जमा करना पड़ा 76 लाख रुपए, मजीठिया क्रांतिकारियों की शिकायत रंग लाई दैनिक भाष्कर जैसे समाचार पत्रों का प्रकाशन करने वाली कंपनी डीबी कार्प के  दैनिक दिव्य मराठी प्रबंधन को औरंगाबाद हाईकोर्ट ने जोरदार झटका दिया है। नियमानुसार पीएफ जमा नहीं करने पर सेंट्रल गर्वमेंट इंडस्ट्रीयल […]Read More

खास ख़बर

परीक्षा माफिया की चपेट में यूपी, क्या दरोगा भर्ती परीक्षा भी रद्द करेंगे योगी

परीक्षा माफिया की चपेट में यूपी, क्या दरोगा भर्ती परीक्षा भी रद्द करेंगे योगी शिक्षक पात्रता परीक्षा टीईटी की परीक्षा के लिए 19 लाख से अधिक परीक्षार्थी घरों से निकले थे। परीक्षा शुरू नहीं हुई कि प्रश्न पत्र लीक होने और परीक्षा के ही रद्द किए जाने की ख़बरें आने लगी। इस परीक्षा को लेकर […]Read More

श्रद्धांजलि

वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का निधन

टेलीविजन पत्रकारिता के दिग्गज विनोद दुआ ने आज इस फानी दुनिया को अलविदा कह दिया। कुछ ही समय पहले उनकी पत्नी चन्नी भाभी कोरोना से पीड़ित होकर नहीं रही थीं। दुआ साहब का लोकप्रिय टीवी शो जायका इंडिया का इंतजार घर-घर में बड़ी बेसब्री से किया जाता था। जब हमें रेडइंक पुरस्कार मिला तो विनोद […]Read More

खास ख़बरमीडिया पे फैसले

पत्रकारों के बीच मुद्दा बना लिफाफा और 2022 का चुनाव

चौथे स्तम्भ के लिफाफे की चर्चा हुई आम,,,पत्रकार ही उमेश कुमार शर्मा का चुनाव लड़ना करेंगे तय,,,। वरिष्ठ पत्रकार उमेश ने खानपुर विधायक द्वारा रुड़की के कुछ पत्रकारों को दलाल कहने व हैसियत पूछने पर चुनाव लड़ने की ठानी,,,। हरिद्वार जनपद की खानपुर सीट से विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन के द्वारा पत्रकारों द्वारा सवाल […]Read More

सोशल मीडिया

बदली, बढ़ी, बिखरी पत्रकारिता और चंदन

बदली, बढ़ी, बिखरी पत्रकारिता और चंदन! हरिशंकर व्यास ‘धर्मयुग’ मठ के अनुशासन में निकलती पत्रिका वहीं रविवार एक्ट़िविज्म और एजेंडे में खिली हुई पत्रिका। पता नहीं धर्मवीर भारती ने ‘रविवार’ की प्रारंभिक सफलता पर क्या सोचा होगा? उन्हें वह एक छिछोरी पत्रिका समझ आई होगी। मोटे तौर पर मेरा मानना है कि 1980 के वक्त […]Read More

अपनी भड़ासकहासुनी

पटाखा व्यापारी ने जनवाणी के पत्रकार को भेजा 5 करोड़ की मानहानि का नोटिस ( सुने ऑडियो )

उत्तरप्रदेश के मेरठ में एक व्यापारी ने जनवाणी न्यूज़ पेपर के पत्रकार इरशाद चौधरी के ऊपर पांच करोड़ की मानहानि का नोटिस भेजा  है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मेरठ निवासी थाना सुरुरपुर के गौरव मोहन गुप्ता ने जनवाणी अखवार के पत्रकार पर एक लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया है जिसके बाद पीड़ित […]Read More

श्रद्धांजलि

नहीं रहे हरिद्वार के वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर कमल कांत बुधकर सुबह 7 बजे ली अंतिम सांस

हरिद्वार। हरिद्वार के वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर कमल कांत बुधकर का आज सुबह करीब 7 बजे निधन हो गया। 72 वर्षीय डॉक्टर कमलकांत बुधकर काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में पत्रकारिता विभाग के प्रोफेसर रहे डॉक्टर कमलकांत बुधकर हरिद्वार प्रेस क्लब के संस्थापक सदस्यों में से भी एक थे। डॉक्टर […]Read More

कहासुनी

नोकझोंक के बीच पत्रकार विक्रम श्रीवास्तव ने सीओ के माध्यम से राज्यपाल को सौपा ज्ञापन – पत्रकार सुरक्षा कानून की

राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर राज्यपाल को ज्ञापन देने पहुंचे पत्रकार विक्रम श्रीवास्तव को पुलिस ने राजभवन के बाहर बैरिकेड लगाकर रोक दिया। दरअसल पत्रकार विक्रम श्रीवास्तव पत्रकारों के ऊपर हो रहे फर्जी आपराधिक मामले के विरोध में राजभवन संकेतिक धरना देने पहुंचे थे ज्ञात हो कि पत्रकार विक्रम श्रीवास्तव के ऊपर भी पूर्व […]Read More

इलेक्ट्रॉनिक मीडियाशहर दर शहर

फर्जी न्यूज़ चेनल की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का खुलासा

वरिष्ठ पत्रकार अवधेश भार्गव द्वारा संचालित सेक्स रैकेट की सरगना अनुपमा तिवारी सहित सेक्स का कारोबार करने वाली 5 कॉलगर्ल, 5 ग्राहक के साथ गिरफ्तार, भोपाल के कथित पत्रकार अवधेश भार्गव के संरक्षण में चलता है देह व्यापार का यह कारोबार कई महिलाओं को उतार चुका वेश्यावृत्ति के धंधे में। भोपाल से बुलाती थी लड़कियां […]Read More

खास ख़बर

‘जनसत्ता’ की दुपहरी, बहुत छोटी! में हरिशंकर व्यास, ‘जनसत्ता’ के लंगड़ने-घिसटने की शुरुआत

यह मेरा अहंकार नहीं सत्य है कि मैं ‘जनसत्ता’ में कोई 12-13 साल रहा और वे ही साल ‘जनसत्ता’ की दुपहरी थे। ‘जनसत्ता’ एक चमचमाता सूरज। 19 नवंबर 1983 से ‘जनसत्ता’ छपना शुरू हुआ था। मैंने जून-जुलाई 1995 में ‘जनसत्ता’ से इस्तीफा दिया और तभी शुरू ‘जनसत्ता’ का ढलान। मेरे नौकरी छोड़ने के छह-आठ महीने […]Read More

Share