मीडिया जगत से जुड़ी खबरें भेजे,Bhadas2media का whatsapp no - 9411111862

पत्रकारों के बीच मुद्दा बना लिफाफा और 2022 का चुनाव

 पत्रकारों के बीच मुद्दा बना लिफाफा और 2022 का चुनाव

चौथे स्तम्भ के लिफाफे की चर्चा हुई आम,,,पत्रकार ही उमेश कुमार शर्मा का चुनाव लड़ना करेंगे तय,,,।

वरिष्ठ पत्रकार उमेश ने खानपुर विधायक द्वारा रुड़की के कुछ पत्रकारों को दलाल कहने व हैसियत पूछने पर चुनाव लड़ने की ठानी,,,।
हरिद्वार जनपद की खानपुर सीट से विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन के द्वारा पत्रकारों द्वारा सवाल पूछने पर कुछ पत्रकारों को दलाल व हैशियत पूछने जैसी अभ्र्द्र टिपणी की गयी थी।जिसको लेकर रुड़की क्षेत्र के सभी पत्रकारों अपने अपने तरीके से विधायक की भाषा का विरुद्ध किया ओर माफी मांगने तक बहिष्कार करने व विरोध करने का फैसला लिया था।रुड़की क्षेत्र के पत्रकारों पर हो रही ज्यादती का बदला व लड़ाई लड़ने का बहाना लेकर वरिष्ठ पत्रकार उमेश कुमार शर्मा ने भी रुड़की में आकर विधायक खानपुर की टिपणी का डटकर विरोध किया था।लेकिन किसी को भी यह पता नही था कि यह पत्रकारों की लड़ाई की आड़ में आने वाला 2022 का चुनाव साधने की राजनीति है या कहीं मंजिल कोई ओर है।अब लगातार खानपुर क्षेत्र की जनता में पहुंचकर विधायक कुंवर प्रणव को चुनोती देकर क्या हासिल करना चाहते है उमेश कुमार यह तो आने वाला वक्त ही तय करेगा। कल गुरुवार को दिल्ली रोड स्थित अपने चुनाव कार्यालय पर क्षेत्र के कुछ चुनिदा पत्रकारों को लन्च व लिफाफा परोस कर यह तो साबित हो गया कि बेसबब नही कहीं पे निगाहे ओर कहीं पे निशाना कर चुनाव लड़ने के लिये भी यहां की मीडिया का बहुमत हासिल कर ही लड़ने की बात उमेश कुमार ने कही है।अब सवाल यह उठता है कि क्या पत्रकारों द्वारा पत्रकार को चुनाव लड़ाकर पत्रकारों के ऊपर होने वाली जुल्म ज्यादती बन्द हो जायेगी ओर ठेकेदारी लेकर पत्रकारिता करने वालो का भी आचरण सुधर जायेगा यह बड़ा सवाल है।गुरुवार को कुछ पत्रकारों में लन्च कराकर व लिफाफे बांटने की चर्चा भी आम हो रही है।यदि पत्रकारिता व पत्रकारों में भेदभाव कर अपने चहेते ठेकेदार पत्रकारों की मार्फ़त ऐसे कार्यक्रम होते रहे तो पत्रकारिता के गिरते स्तर को कौन सुधरेगा इस बात की चर्चा भी हर जगह आम हो रही है।

रुड़की अनवर राणा पत्रकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.