मीडिया जगत से जुड़ी खबरें भेजे,Bhadas2media का whatsapp no - 9411111862

झूठे प्रकरण में पत्रकार को फंसाने की साजिश के खिलाफ शिकायत वं ज्ञापन

 झूठे प्रकरण में पत्रकार को फंसाने की साजिश के खिलाफ शिकायत वं ज्ञापन

फर्जी पत्रकार नरेंद्र गहलोत एवं अविनाश जाजपुरा के खिलाफ बलात्कार के झूठे प्रकरण में पत्रकार को फंसाने की साजिश के खिलाफ शिकायत एवं ज्ञापन, ये जल्द जायेगें जेल
पत्रकार अरुण यादव के साथ मारपीट करने, बलात्कार के झुठे में आरोप फंसाने एवं जान से मारने की कोशिश करने वाले आदतन आरोपी पत्रकारों पर शीघ्र प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार करने के संबंध में यादव युवा शक्ति ने पुलिस अधीक्षक को सौपा ज्ञापन।
नीमच। आज दोपहर 2 बजे यादव युवा शक्ति संगठन ने पत्रकार अरुण यादव के साथ मारपीट करने, बलात्कार के झूठे आरोप में फसाने ओर जान से मारने की कोशिश करने वाले आरोपियों के खिलाफ जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपा।
ज्ञापन में बताया गया कि दिनांक 30.09.21 की शाम करीब 6 बजे सांध्य दैनिक जय मालवा के पत्रकार अरूण पिता रमेशचन्द्र यादव जाति जाटव को आरोपी नरेन्द्र पिता हरीराम गेहलोत अपनी कार पर सवार होकर होटल भारत पेलेस के पास से बहला फुसला कर बिठा कर इंदिरा नगर के पीछे सांवरिया कॉलोनी निवास पर ले गया था।
जहां पहले से मौजुद आरोपीगण अविनाश जाजपुरा पिता कुबैरकांत जाजपुरा एवं दिलीप पिता मनोहर भारद्वाज पत्रकार अरूण यादव को कमरे में बंधक बनाकर मारपीट करते है। इतने में कमरे में पहले से मौजुद नरेन्द्र गेहलोत की तीन लड़कीया भी अरूण यादव के हाथ पकड़ लेती है, और बलात्कार के झुठे आरोप में फंसाने की धमकी देती है और दिलीप भारद्वाज अपने मोबाईल से अरूण यादव के साथ कारीत घटनाक्रम का वीडियो भी बनाता है और धमकी देता है कि आज तुझे यही जान से खत्म कर देंगे।
इतने में नरेन्द्र गेहलोत घर में रखी पिस्टल अपनी लड़की से मंगवाता है और अरूण यादव के सर पर तान देता है। अविनाश और दिलीप भारद्वाज, अरूण यादव को अभद्र और जातिसूचक गालिया देते है। जिसके बाद अरूण यादव के मोबाईल पर उनके मित्र का कॉल आता है, डरी सहमी आवाज में अरूण यादव नरेन्द्र गेहलोत के घर जल्दी आने की बात अपने मित्र से कहते है, इतने में नरेन्द्र गेहलोत की लड़कीया अरूण यादव का मोबाईल छीन लेती है और नरेन्द्र गेहलोत घर में पड़ी बियर की बोटल को फोड़कर अरूण यादव के पेट के करीब लाकर डराता-धमकाता है।
उक्त घटना के बीच जब अरूण यादव के मोबाईल पर जिस मित्र का फोन आता है उन्हे वहां हो रही चिल्लाचोट की आवाज से आभास हो जाता है कि अरूण यादव के साथ कुछ तो घटनाक्रम घटीत हो रहा है। आनन-फानन में अरूण यादव के मित्र नरेन्द्र गेहलोत के निवास पर पहुंचते है, लेकिन घर के बाहर पहले से मौजुद नरेन्द्र की लडकी उन्हे भी डरा-धमका कर वहां से रवाना कर देती है।
अरूण यादव के मित्र के वहां से चले जाने से अविनाश जाजपुरा और दिलीप भारद्वाज कहते ही कि आज तो इसे छोड़ दो, अगली बार हत्थे चढ़ा तो जान से मार देंगे। इतने में नरेन्द्र गेहलोत बोलता है कि पुलिस के पास जायेगा तो तेरे घर अफीम रखवा देंगे। इसलिए खेरियत में रहकर यहां से चुपचाप निकल जा, और घर के बाहर भी किसी को यहां के घटनाक्रम का पता नही चलना चाहिए, इसलिए गले मिलते हुए जा। इतने में नरेन्द्र एक लड़की भी घर के बाहर आती है और अरूण यादव को उनका मोबाईल हाथ में थमाकर अंदर चली जाती है।
पत्रकार अरूण यादव घटनाक्रम वाले दिन ही नरेन्द्र के घर से कुछ दुर छुपकर डायल-100 बुलाते है ओर सिधे पुलिस थाने पहुंचकर सारे घटनाक्रम से अवगत करवाते है।
उक्त ज्ञापन का वाचन करते हुवे रवि गोयल ने बताया कि घटना दिनांक से आज दिनांक तक आरोपी नरेन्द्र गेहलोत, अविनाश जाजपुरा, दिलीप भारद्वाज खुलेआम घुम रहे है। पुलिस ने इस गंभीर अपराध पर अब तक आरोपियो पर प्रकरण भी दर्ज नही किया है। जबकि आरोपीगण लगातार अरुण यादव को किसी भी झूठे आरोप में फसाने की अब भी धमकी दे रहे है। नरेन्द्र गेहलोत, अविनाश जाजपुरा, दिलीप भारद्वाज तीनो ही आदतन अपराधि है। कई प्रकरण इनके विरूद्ध अब तक दर्ज हो चुके है। अतः पत्रकार अरुण यादव के कारित बर्बरतापूर्ण घटनाक्रम के बाद सभी आरोपियों पर शीघ्र प्रकरण दर्ज कर उन्हें शीघ्र ही गिरफ्तार किया जाए।
पुलिस अधीक्षक सूरज कुमार वर्मा ने संगठन के सभी सदस्यों को आश्वाशीत करते हुवे सभी आरोपियों पर शीघ्र कार्रवाई करने की बात कही।
यह रहे मौजूद रवि गोयल, पूर्व यादव महासभा अध्यक्ष सुनील अम्ब, पूर्व पार्षद मोनू लॉक्स, वरिष्ठ पत्रकार अभय भरद्वाज, भाजपा युवा नेता मनीष शर्मा, लोकेश सलोना, इंदर यादव, देवेंद्र यादव, पुष्कर सिंह चौहान, मोहित प्लास, पवन मौर्य, रोहित सोनू खेर, अंकित जाजोरिया, कमल वरुण, सूरज यादव, विशाल व्यास, अमन भारंग, अभिषेक यादव, लोकेश व्यास, मनीष जयंत, भरत गोयल, मोहन यादव सहित अन्य संगठन के लोग उपस्थित थे।
फर्जी आइसना अवधेश भार्गव अड़ीबाज गैंग के सदस्य एवं फर्जी आइसना के प्रदेश सचिव बादल पटेल जबलपुर में इसी तरह के कार्य में 6 प्रकरण दर्ज होने के बाद सेंट्रल जेल की सलाखों के पीछे कैदियों की चड्डी बनियान धो रहा हैं, नरेंद्र गहलोत भोपाल में भी धमकी देकर अड़ीबाजी करने का एक प्रकरण दर्ज है वही नीमच में अनेकों आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध है,
इनके महासचिव अविनाश जाजपुरा के ऊपर भी अनेकों अपराधिक प्रकरण दर्ज होकर न्यायालय में चल रहे हैं आज फिर उन्होंने अपनी काली करतूतों को करते हुए एक पत्रकार को ही झूठे मुकदमे में फंसाने का षड्यंत्र रचा इस तरह का षड्यंत्र इनके इनके दादा नटवरलाल भोपाल में पत्रकारों के साथ एवं जनता के साथ इसी तरह के कार्यों को अंजाम देते रहें अब इनके गुर्गे भी पत्रकारिता की आड़ में अपराधिक गतिविधियों को संचालित कर रहे हैं जिससे पत्रकारिता जगत बदनाम हो रहा है ।

विनय जी डेविड

भड़ास 2मीडिया भारत का नंबर 1 पोर्टल हैं जो की पत्रकारों व मीडिया जगत से सम्बंधित खबरें छापता है ! पत्रकार और मीडिया जगत से जुडी और शिकायत या कोई भी खबर हो तो कृप्या bhadas2medias@gmail.com पर तुरंत भेजे अगर आप चाहते है तो आपका नाम भी गुप्त रखा जाएगा क्योकि ये भड़ास2मीडिया मेरा नहीं हम सबका है तो मेरे देश के सभी छोटे और बड़े पत्रकार भाईयों खबरों में अपना सहयोग जरूर करे हमारी ईमेल आईडी है bhadas2medias@gmail.com आप अपनी खबर व्हाट्सप्प के माध्यम से भी भड़ास2मीडिया तक पहुंचा सकते है हमारा no है 09411111862 धन्यवाद आपका भाई संजय कश्यप भड़ास2मीडिया संपादक  

Leave a Reply

Your email address will not be published.